लॉक डाउन::लंबे ब्रेक से खिलाड़ियों की फिटनेस हो रही प्रभावित: प्रवीण जैन…मुख्यमंत्री को पत्र में खिलाड़ियों के लिए विशेष छूट व आर्थिक मदद की मांग रखी

 

रायपुर: छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी स्पोर्ट्स सेल के प्रदेश अध्यक्ष प्रवीण जैन ने कहा है कि लंबे ब्रेक के कारण प्रदेश के खिलाड़ियों की फिटनेस प्रभावित हो रही है। जैन ने कहा कि लॉकडाउन के कारण खिलाड़ियों को अभ्यास का अवसर नहीं मिल रहा है। ऐसे में खिलाड़ी योग और घरेलू व्यायाम से अपने को फिट बनाये रखने का प्रयास कर रहे हैं, किन्तु क्रिकेट, हॉकी, फुटबॉल, बैडमिंटन, टेनिस, एथलेटिक्स इत्यादि दौड़-भाग वाले खेलों के साथ बॉडीबिल्डर-वेटलिफ्टर जैसे खेलों के लिये ये पर्याप्त नहीं है। कोविड-19 महामारी के कारण अभी दुनिया भर में सभी खेल गतिविधियां बंद हैं, इस कारण शीर्ष खिलाड़ियों को घर पर ही रहना पड़ रहा है, ऐसे में वे अपने को फिट रखने के कई प्रयास कर रहे हैं जो पर्याप्त नही है, ‘‘अगर लॉकडाउन 17 मई को खत्म हो भी जाता है तब भी सामाजिक जीवन के सामान्य होने में काफी समय लगेगा। ऐसे में खिलाड़ियों को फिट रहना बहुत बड़ी चुनौती साबित हो रही है,
जैन ने कहा, ‘‘ खिलाड़ी-धावकों की मासंपेशियों को सक्रिय रखना बहुत जरूरी होता है। इसके लिए तैराकी, साइकिलिंग, उचित व्यायाम, दौड़ना व पर्याप्त डाइट लेना अत्यंत आवश्यक होता है’’ किन्तु खिलाड़ियों को किसी भी प्रकार की छूट नही दी गई है, जिससे फिटनेस बड़ी समस्या बन गई है। कई टूर्नामेंट रद्द होने से खिलाड़ियों को आर्थिक रूप से भी बहुत बड़ा नुकसान हुआ है, कइयों को रोजी रोटी के भी लाले पड़ गए हैं और इतने बड़े अन्तराल के बाद दुबारा अपने आपको पहले जैसा लाने में काफी वक्त और पैसा खर्च करना होगा, जिसकी कमी से कई खिलाड़ियों का भविष्य दाँव पर लग गया है।
प्रवीण जैन ने छत्तीसगढ़ की संवेदनशील भूपेश बघेल सरकार से मांग की है कि प्रदेश के प्रतिभाशाली बड़े राष्ट्रीय-अंतराष्ट्रीय खिलाड़ियों को विशेष छूट दी जानी चाहिए तथा इनके लिए आर्थिक पैकेज की घोषणा कर इन्हें मदद पहुंचाये जाना न्यायोचित होगा।

 

Live Cricket Live Share Market

जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button
Don`t copy text!
Close