मीसाबंदियों का किया गया सम्मान… भाजपाइयों ने आपात काल को याद कर बताया काला इतिहास..

शराफत अली मनेन्द्रगढ़
कोरिया जिले के मीसा बन्दी स्व. शशिभूषण अग्रवाल , रमाकांत गोयल , श्री टेकचंद , सत्यनारायण अग्रवाल , मधुसूदन तिवारी , हनुमान प्रसाद अग्रवाल को याद करते हुए उपस्थित लोगों को पूर्व विधायक श्याम बिहारी जायसवाल द्वारा शाल श्रीफल से सम्मानित किया गया। इस अवसर पर पूर्व विधायक ने कहा कि इन्हीं में से श्री तिवारी तब अपने घर पर 6 साल के बच्चे के साथ अकेले थे, रात्रि 3 बजे तत्कालीन SDM, SDOP ने बिना कुछ सुने जेल भेजने का काम किया था। सभी को कई दिनों तक भोजन नही दिया गया, 6 महीनों तक जेल के सलाखों के पीछे रहना पड़ा। आजाद भारत के काले दिवस 25 जून 1975 की रात्रि टेलीफोन के तार काटने, रेल की पटरी उखाड़ने, फ़ोटो चस्पा करने, जैसे विभिन्न प्रकार के झूठे आरोप लगा कर, आपातकाल के नाम पर अन्याय की पराकाष्ठा को अनजाम देने वाली इंदिरा कांग्रेस सरकार के राष्ट्रविरोधी नीति को बेनकाब करती है। उन्होंने बताया कि आज से 4 दशक पूर्व जब मैं स्वयं भी इस भारत भूमि पर जन्म नही लिया था। उस वक्त के अत्याचार के ये सभी गवाह है।आज इन सभी सम्मानित लोगों के बारे में और कांग्रेस की दमनकारी सरकार के इतिहास को याद रखना युवा पीढ़ी को  जरूरी है, क्योंकि बेहतर भविष्य और बेहतर भारत का सपना जो हर नागरिक देखता है, कांग्रेस उसके विपरीत केवल और केवल परिवार प्रथम की नीति पर चलती है।इस अवसर पर भाजपा मंडल अध्यक्ष धर्मेंद्र पटवा,अनिल केशरवानी, जे.के.सिंह, अनुपमा निशी, अलका गांधी, महेश्वरी सिंह, प्रतिमा पटवा, संध्या  के साथ कई कार्यकर्ता उपस्थित रहे।
Live Cricket Live Share Market

जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button
Don`t copy text!
Close