IG डांगी ने कहा..किसानों को पुलिस व कोर्ट कचहरी से बचना चाहिए…अपनी खेती-बाड़ी और बच्चों पर दें ध्यान तो होगा लाभ… किसी के बहकावे में ना आए…

छत्तीसगढ़ के सरगुजा रेंज के संवेदनशील IG ने कहा कि किसानों की आय का बहुत बड़ा हिस्सा आपसी विवाद जैसे पड़ोसी का खेत दबाना, रास्ता बंद करना, भाई से हिस्से का बंटवारा सही ना कर पाना इत्यादि के आपसी विवाद में ही कोर्ट कचहरी में खर्च हो जाता हैं।
इस प्रकार के विवादों से पूरा परिवार तनाव में रहता है, पसीने की कमाई न्यायालय के चक्कर लगाने व मुकदमों की सुनवाई मे लग जाती है।कई बार तो जो जमीन है वो ही बिक जाती हैं, बचत के पैसे चले जाते हैं। ऋणग्रस्त हो जाते हैं, जेवर बेचने पड़ते है।
IG ने आगे कहा कि यदि वो लोग उतना ही पैसा बच्चों को पढ़ाने में लगाएंगे तो वो एक दिन उससे भी ज्यादा जमीन भी खरीद लेगा और आपके साथ सूकून की जिदंगी भी जीएगा।
उन्होंने कहा कि वर्षों के मुकदमे के बाद या तो आप नहीं तो, आने वाली पीढ़ी समझौता करके मामले निपटाते ही हैं। यदि आपको कोई ये सलाह दे रहा है कि पुलिस या न्यायालय में केस कर दे “बात का या नाक का सवाल” है तो सतर्क हो जाएं- या तो उसका खुद का कोई स्वार्थ है या आपकी शांति उसको रास नहीं आ रही है ।और वो आपके परिवार को आर्थिक कंगाली मे व आपके बच्चों के भविष्य को खराब करना चाहता है।
IG ने उदाहरण देते हुए कहा कि सोचिए जब पड़ौसी देश आपसी सीमा विवाद के मामले कूटनीति यानि बातचीत से सुलझाते हैं तो आप व पड़ौसी क्यों नहीं अपने मामले बातचीत से सुलझा लेते।
IG रतनलाल डांगी ने कहा इससे आपकी गाढ़ी कमाई दूसरे लोगों के पास जाने से बचेगी, आप शांति से रहेंगे, बच्चे अच्छी शिक्षा पाएंगे किसानों की आमदनी का बहुत बड़ा हिस्सा इसी तरह के आपसी विवादों मे ही जाता हैं।
Live Cricket Live Share Market

जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button
Don`t copy text!
Close