♦इस खबर को आगे शेयर जरूर करें ♦

एसईसीएल रायगढ़ क्षेत्र में त्रिपुरा स्टेट राइफल्स बटालियन की 240 सैनिकों की तैनाती की पहली टुकड़ी पहुंची *बरौद,बिजारी,जामपाली,गारे-पेलमा,छाल कोयला खदानों की सुरक्षा में होगी तैनाती*

बरौद कॉलरी-/-सीआईएल कोल इंडिया की अनुषांगिक कम्पनियों में सबसे अधिक आय का स्त्रोत देने वाली कंपनी मानी जाती है,एसईसीएल कम्पनी के अंतर्गत मेगा प्रोजेक्ट कुसमुंडा और बड़ी तेजी के साथ उत्पादन उत्पादकता में आगे बढ़ रहे एसईसीएल रायगढ़ क्षेत्र की खदानों में प्रमुख रूप से बरौद,बिजारी,जामपाली,गारे-पेलमा व छाल उपक्षेत्रों में अब सुरक्षा की जिम्मेदारीयां कोबरा बटालियन त्रिपुरा राइफल्स की 9वीं बटालियन से 240 सैनिकों की पहली टुकड़ी गत दिनों रायगढ़ पहुंच चुकी है |
एसईसीएल रायगढ़ कोयलांचल की विभिन्न कोयला खदानों से बताया जाता है कि लम्बे समय से कोयले की अफरा तफरी करने वालो के अनेकों कारनामें देखे और सुने जाते रहे है अनेकों अवैध कोयला लदी वाहने जब्त की गई और जिला अंतर्गत विभिन्न थानों में अनेकों अनेक प्रकरण पंजीबद्व किये गए इन तमाम कारणों की रोकथाम करने और कोयला खदानों की सुरक्षा की महती जिम्मेदारीयों की तैनाती अब यथाशीघ्र त्रिपुरा स्टेट बटालियन के हथियारबंद सैनिकों सुरक्षा प्रहरियों के हाथों सुपुर्द होने जा रही है |
एसईसीएल के सुरक्षा प्रभारी रमेश दास महंत ने नवागत त्रिपुरा बटालियन के 240 सैनिकों के टीम की अगुवानी की,बताया जा रहा है कि बरौद में 33,बिजारी में33 ,जामपाली में33 ,गारे-पेलमा में66 और छाल उपक्षेत्र में 66 सुरक्षा प्रहरियों की पहली खेप में तैनाती किया जा रहा है आने वाले कुछ महिनों में एक बटालियन की टुकड़ी भी आयेगी ! त्रिपुरा बटालियन के बारे में बताया जा रहा है कि अल्फा बोड़ो उग्रवादी से लोहा ले चुकी है गुरिल्ला युद्ध लड़ने में माहिर है इसे कोबरा बटालियन का प्रतिबिंब भी कहा जा सकता है !
*सीआईएसएफ की होगी बिदाई*
――――――――――――――
गत सात वर्षो से बरौद उपक्षेत्र बरघाट कॉलोनी के एक मात्र सामुदायिक भवन में सीआईएसएफ को बैरक के रूप में कम्पनी द्वारा अविवेकपूर्ण निर्णय लेकर जिनके हवाले कर कोयला कर्मचारियों की सामाजिक,सांस्कृतिक,महिला मंडलों की अनेकों गतिविधियां,स्कूली बच्चों के विभिन्न खेलकूद से इन वर्षो में वंचित कर रखा गया समझा जा रहा है कि नवागत त्रिपुरा स्टेट राइफल्स के आने पर सीआईएसएफ की बरौद उपक्षेत्र से होगी बिदाई !
श्रम संगठन साउथ ईस्टर्न कोयला मजदूर कांग्रेस इंटक के क्षेत्रीय महासचिव गनपत चौहान ने रायगढ़ व बरौद प्रबंधन से सामुदायिक भवन व अॉफिसर क्लब को मुक्त कराने व त्रिपुरा राइफल्स को कही अन्यंत्र बैरक उपलब्ध कराने की अपील की गई है !

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button



स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे

जवाब जरूर दे 

[poll]

Related Articles

Back to top button
Don`t copy text!
Close