अब चिरमिरीवासियों को मिलेगी सरकारी इंग्लिश मीडियम स्कूल की सौगात…कक्षा 1-12 तक…हॉस्टल भी..ग्रामीण बच्चे भी…विधायक विनय की पहल पर कलेक्टर ने किया भवन का निरीक्षण… सितम्बर से…

कोरिया जिले के कोयलांचल नगरी चिरमिरी में इंलिश मीडियम स्कूल की वर्षो पुरानी मांग अब सरकारी इंग्लिश मीडियम स्कूल के रूप में पूरी होने जा रही है। मनेंद्रगढ़ विधायक डॉक्टर विनय जायसवाल के 18 माह के अथक प्रयास से जल्द ही चिरमिरीवासियों के साथ जनपद पंचायत खड़गवां के अंतर्गत ग्रामीण अंचल के रहवासियों के अध्यन रत बच्चों को एक बड़ी सौगात के रूप में राज्य शासित इंग्लिश मीडियम स्कूल की बड़ी उपलब्धि आने वाले दो माह में मिलने जा रही है । जिसमे अध्यरत बच्चों को उनके निवास से लाने ले जाने की स्कूल बस की व्यवस्था, दूर दराज के बच्चों को विद्यालय में रहने के लिए पर्याप्त हास्टल की व्यवस्था एवं 1 से लेकर उनकी 12 वी कक्षा तक की अंग्रेजी माध्यम की उच्च शिक्षा को निःशुल्क रूप में देने की योजना बनाई गई है। जिसका पूरा खर्च राज्य सरकार स्वयं अपनी निगरानी में निर्वाहन करेगी।
विधायक डॉक्टर विनय के अथक प्रयास और लगातार मांग पर बीते रविवार को  कोरिया कलेक्टर एसएन राठौर ने चिरमिरी के गोदरीपारा वार्ड क्रमांक 32 में बन रहे लाइवलीहुड कालेज के नाम से निर्माणाधीन बिल्डिंग का निरीक्षण कर उक्त बिल्डिंग में इंग्लिश मीडियम स्कूल खोलने का प्रस्ताव बना कर राज्य सरकार को भेजा गया। जिसको आने वाले 1 सितंबर तक संचालित करने की बात कही है ।
जानकारी के अनुसार अगर यहाँ अंग्रेजी माध्यम का विद्यालय संचालित होता है तो एक हजार से अधिक बच्चे यहाँ अध्ययन कर सकेंगे, जिनकी आवागमन से लेकर उनके ठहरने और शिक्षा का पूरा जिम्मा राज्य सरकार का होगा। जिसमें शिक्षा देने वाले शिक्षको की भर्ती प्रक्रिया और उनके मानदेय को भी राज्य सरकार निर्वाहन करेगी। जिसकी पूरी जानकारी कलेक्टर कोरिया ने मौके पर उपस्थित पत्रकारों को दी। निरीक्षण के दौरान मौके पर उपस्थित मनेंद्रगढ़ विधायक डॉक्टर विनय ने जानकारी देते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ प्रदेश की कांग्रेस सरकार प्रदेश में 18 माह से लगातार प्रदेश के जनता हित में काम कर रही है। राज्य की भूपेश सरकार स्वास्थ्य के क्षेत्र में शिक्षा के क्षेत्र में लगातार काम कर रही है। चिरमिरी में इंग्लिश मीडियम स्कूल दो ही है एक सेंट्रल स्कूल व डीएव्ही वह भी स्कूल इन स्कूलों में हर साल एडमिशन के समय अभिवाहक अपने बच्चे की एडमिशन के लिये भटकते रहते है कि उनके बच्चों की भर्ती इन स्कूलों में हो जाये पर सीमित सीट होने व एसईसीएल में कार्यरत कर्मचारियो के बच्चो के एडमिशन होने के बाद जो सीट खाली होती है उसके बाद गिनती के लोगों के बच्चो के एडमिशन ही हो पाते है । ऐसे में हर साल सैकड़ो की संख्या में चिरमिरी के लोग मांग करते आ रहे है कि राज्य सरकार के द्वारा भी यहाँ इंग्लिश मीडियम स्कूल खोला जाए।
उन्होंने कहा कि यह राज्य शासन की महत्वकांक्षी योजना है कि प्रत्येक जिलों में इंग्लिश मीडियम विद्यालय संचालित हो. इसके लिए मेरे द्वारा अपने शहर को इस योजना से जोड़ते हुए  राज्य शासन के समक्ष प्रस्ताव भेजा गया था। इस संचालित अंग्रेजी माध्यम के विद्यालय मे फ़ीस पर कोई मापदंड नही होगा।जिसकी सारी सुविधाए निशुल्क होंगी।
स्थानीय लोगो की लगातार मांग थी कि यहाँ एक बड़ा और अच्छा इग्लिश मीडियम स्कूल खोला जाए जिस पर लगातार प्रयास के बाद आज वह दिन आ गया। अब स्थानीय लोगो की एक बड़ी मांग पर विराम लग गया जो जल्द ही हमारे शहर को एक अलग पहचान देगा।
इन दौरान निगम महापौर कंचन जायसवाल, आयुक्त सुमन राज, डीईओ संजय गुप्ता, एसडीएम चिरमिरी, ब्लाक शिक्षा अधिकारी मिश्रा, जनपद पंचायत खड़गवां के मुख्य कार्यपालन अधिकारी, तहसील दार पैकरा, कांग्रेस ब्लाक अध्यक्ष सुभाष कश्यप, राकेश श्रीवास्तव, अशोक श्रीवास्तक,ओमकर पाण्डेय, वरिष्ट कांग्रेसी शंकर रॉव, मुक्तेश्वर कुशवाहा, पार्षद शिवांश जैन, पार्षद संदीप सोनवानी, सन्नी कुमार चौहथा, राम प्यारे चौहान, अभिवक्ता पी.तिवारी व स्थानीय निगम प्रशासन, विद्दुत विभाग, स्वास्थ्य विभाग सहित ज़िला प्रशासन के अधिकारीगण और कर्मचारी गण मौजूद रहे।
Live Cricket Live Share Market

जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button
Don`t copy text!
Close